जल के भौतिक गुण ताप के प्रति असामान्य प्रसार

अन्य द्रवों के विपरीत जल को 0०C से 4०C तक गर्म करने पर आयतन घटता है. और उसका घनत्व बड़ता है.परन्तु 4०C के ऊपर गर्म करने पर जल का आयतन बढेगा और घनत्व घटेगा.
इसके विपरीत जल को 100०C से 4०C तक ताप कम किया जाये तो जल का आयतन घटेगा और घनत्व बढेगा.इसके बाद ताप को 4०C से 0०C तक कम किया जाता है तो आयतन बढेगा, घनत्व कम होगा. 4०C पर जल का घनत्व अधिकतम होता है.
उदहारण जल के इसी असामान्य प्रसार के कारण अधिक शीत ऋतू में पहाड़ों पर पानी की पाइपलाइन फट जाती है क्योकि जल के जमने के बाद उसके आयतन में प्रसार होता है.
जब किसी बोतल में पानी भरा जाता है और उसे जमने दिया जाता है तो बोतल टूट जाती है.क्योकि पानी ज़माने पर टूट जाता है.
1.पानी का घनत्व किस ताप पर अधिकतम होता है?

2.जब बर्फ को 0० से 10० तक गर्म किया जाता है, तो उसका आयतन –(SSC 2012)

3.यदि जल को 10०C से 0० से ठंडा किया जाये तो –?

4. जब किसी बोतल में पानी भरा जाता है और उसे जमने दिया जाता है तो बोतल टूट जाती है क्योंकि?

5.अत्यधिक शीत ऋतु में पहाड़ों पर पानी की पाइप लाइन क्यों फट जाती हैं इसका कारण है?

6.किसी झील का पानी अभी जाने ही वाला है झील के जल का तापमान क्या होगा?

7.बर्फ में तब्दील हो चुकी झील के अंदर की मछलियां जीवित रह पाती है क्योंकि?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *